शुक्रवार, 5 सितंबर 2008

अंतराल के बाद

लंबे अंतराल के बाद लिखना संभव हो पा रहा है। कारण रहा बेटी की बीमारी। साढ़े तीन साल की बच्ची एक माह तक हॉस्पीटल में भरती रही। इस बीच उसके दो आपरेशन हुए। वह आव्सर्टेक्शन के बाद सेप्टिसीमिया से पीड़ित हो गई थी। इसी बीच पुलिस मुठभेड़ में अंबिका पटेल उर्फ ठोकिया को मार गिराया गया। आगरा के पास कमल गुर्जर का भी सफाया कर दिया गया। यह दोनो घटनाएं हुईं। इसके संबंध में मैं फिर कभी विस्तार से लिखूंगा।

1 टिप्पणी:

Udan Tashtari ने कहा…

बिटिया का ख्याल रखें. शीघ्र स्वास्थय लाभ के लिए मेरी शुभकामनाऐं.