मंगलवार, 18 अक्तूबर 2011

डकैतों के डर से कोलूपुरा बस्ती खाली




- कूनों नदी के किनारे पालपुर तक चल रही पुलिस की सर्चिंग कूनों(श्योपुर) के बीहड़ से खास रिपोर्ट



पप्पू गिरोह की वारदात के बाद मोरावन, नहीयर, कोलूपुरा के लोगों में दहशत हैं। डकैतों के डर से कोलूपुरा बस्ती के लोग पलायन कर चुके हैं। कुछ लोगों ने अस्थाई रूप से मोरावन में डेरा डाल लिया है, वहीं कुछ लोग कराहल में रहने की जुगाड़ बिठा रहे हैं। घटना की रात से ही पुलिस कूनों नदी के दोनों किनारों पर सर्चिंग कर रही है, लेकिन अभी तक डकैतों का कोई सुराग नहीं मिला है। पुलिस की सर्चिंग पार्टिंया प्राथमिकता के तौर पर उन लोगों की तलाश कर रही है, जो लोग डकैतों को रसद पहुंचाते हैं।
मालूम हो, गट्टा गिरोह के सरगना पप्पू ने शनिवार की रात को हथेड़ी गांव की खिरकाईयों पर आधा दर्जन ग्रामीणों की मारपीट कर एक युवक मोहर सिंह का हाथ और नाक काट दी थी। घटना के बाद से ही कराहल क्षेत्र में दहशत का माहौल बन गया है। मोरावन, नसीयर और सेसईपुरा में सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल भी तैनात कर दिया गया है। पप्पू गुुर्जर गिरोह की दहशत से कोलूपुरा बस्ती में रहने वाले एक दर्जन परिवारों मेें से कुछ परिवार तो शनिवार को ही बस्ती खाली कर मोरावन पहुंच गए थे। शेष लोगों ने रविवार को कराहल और सेसईपुरा में डेरा डाल लिया है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय सिंह ने बताया कि घटना के बाद से ही डकैतों की तलाश में पुलिस की पार्टिंया सर्चिंग कर रही हैं। प्राथमिकता के तौर पर कूनों नदी के दोनों किनारों पर बसे गांवों में डकैतों की तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि नबलपुरा, दौलतपुरा, मोरावन से लेकर पालपुर तक के गांवों में पुलिस प्राथमिकता के तौर पर उन लोगों को पकडऩे का प्रयास कर रही है, जो इस गिरोह को दैनिक जीवन में उपयोग होने वाली सामग्री पहुंचाते हैं।

पीडि़तों से मिलने पहुंचे जनप्रतिनिधि...


घटना के बाद से ही डकैतों का शिकार हुए भयभीत ग्रामीणों से मिलने के लिए मोरावन गांव में जनप्रतिनिधियों का तांता शुरू हो गया। ग्वालियर में भर्ती मोहर सिंह से शनिवार को वन विकास निगम के उपाध्यक्ष बाबूलाल मेवरा मिले, वहीं शाम को क्षेत्रीय विधायक रामनिवास रावत मोरावन पहुंच गए। रविवार की सुबह जिला पंचायत अध्यक्ष गुड्डीबाई ने भी मोरावन पहुंचकर पीडि़तों से चर्चा की है।

...तो खाली कर देंगे गांव


नाम नहीं छापने की शर्त पर पप्पू गिरोह से भयभीत मोरावन, नसीहर के ग्रामीणों ने बताया कि बार-बार डकैत मोरावन पर हमला कर रहे हैं, बावजूद इसके पुलिस गिरोह को पकड़ नहीं पा रही है। यदि यही हालात रहे तो हम लोग गांव से पलायन कर जाएंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: